Lag Ja Gale Ki Phir ye Hasin Raat Ho Na Ho

Lag Ja Gale Ki Phir ye Hasin Raat Ho Na Ho

Lag Ja Gale Ki Phir, ye Hasin Raat Ho Na Ho
Shayad Phir Is Janam Mein mulakat Ho Na Ho
Lag Jaa Gale ke phir ye hansi raat ho na ho shayad phir is janam Mein mulakat ho na ho… lag ja gale a a aahh hhh hhh

लग जा गले की फिर ,ये हसीं रात हो न हो सायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो लग जा गले की फिर ये हसीं रात हो न हो सायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो न हो...लग जा गले अ अ अअहह हहह हहह हम को मिली है आज ये रात गढ़ियाँ नसीब से जी भर के देख लीजिये हमको करीब से फिर आप के नसीब में ये बात हो न हो सायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो लग जा गले की फिर ये हसीं रात हो न हो सायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो न हो...लग जा गले अ अ अअहह हहह हहह